खबरेंडॉमेस्टिक

उत्तराखंड के हैड कोच बने “वसीम जाफ़र , पिछले साल ही लिया था क्रिकेट से संन्यास

0

भारत में प्रथम श्रेणी क्रिकेट के सचिन तेंदुलकर कहे जाने वाले पूर्व क्रिकेटर वसीम जाफर उत्तराखंड की सीनियर पुरुष टीम के मुख्य कोच चुन लिए गए हैं। दाएं हाथ के पूर्व बल्लेबाज वसीम जाफर अपनी मजबूत बल्लेबाजी की तकनीक के लिए जाने जाते हैं। उम्मीद है कि उन्हें मुख्य कोच बनाए जाने से सीनियर टीम के खिलाड़ी तकनीकी रूप से मजबूत बनेंगे।

 

सीनियर महिला टीम के मुख्य कोच की जिम्मेदारी संजय कुमार पाडे को सौंपी गई है। वहीं अनाघा देशपाडे को अंडर-16 व 19 महिला टीम का हेड कोच बनाया गया है।

कोरोना काल में क्रिकेट खिलाड़ियों का बर्ताव होगा रोचक

 

इस तरह क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) ने आगामी घरेलू सत्र की तैयारियों की ओर कदम बढ़ाते हुए कोच के साथ सीनियर टीमों के लिए सपोर्टिंग स्टाफ भी चयनित कर लिया है।

 

सीएयू के सचिव महिम वर्मा ने बताया कि कोच, फिजियो व ट्रेनर का चयन कर लिया गया है। सभी का चयन टेलीफोन पर इंटरव्यू के माध्यम से किया गया है। इसमें सीएयू के अध्यक्ष जोत सिंह गुनसोला के अलावा प्लेयर्स एसोसिएशन मेन से ज्ञानेंद्र पाडे और प्लेयर्स एसोसिएशन वीमेन से निष्ठा फरासी शामिल रहीं। वहीं, सचिव ने बताया कि अंडर-19 पुरुष समेत अन्य टीमों के कोच और सपोर्टिग स्टाफ को रिटेन किया जाना है।

जल्द ही उनके रिटेनिंग लेटर जारी कर दिए जाएंगे।

इनका हुआ चयन

वसीम जाफर: हेड कोच (उत्तराखंड सीनियर पुरुष टीम)

पूर्व क्रिकेटर वसीम जाफर ने भारतीय टीम के लिए 31 टेस्ट और दो एक दिवसीय मैच खेले हैं। जाफर मौजूदा समय में रणजी में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने 260 फ‌र्स्ट क्लास मैचों में 50.67 की औसत से 19410 रन बनाए हैं। रणजी में उनके नाम सबसे अधिक मैच खेलने का रिकॉर्ड भी है। मार्च 2020 में जाफर ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की थी।

संजय कुमार पाडे: हेड कोच (उत्तराखंड सीनियर महिला टीम)

बीसीसीआइ के लेवल-2 कोच हैं। 2019 में मेघालय की अंडर-16 टीम के हेड कोच रह चुके हैं। इसके अलावा 2011-12 में वह झारखंड की अंडर-22 और 2014 से 2018 तक सीनियर वीमेन टीम के भी हेड कोच रह चुके हैं।

अनाघा देशपाडे: हेड कोच (अंडर-16 व 19 महिला टीम)

अनाघा वर्ष 2007-08 और 2014-15 में भारतीय महिला टीम से खेल चुकी हैं। वर्ष 2009 में हुए व‌र्ल्ड कप के अलावा टी-20 व‌र्ल्ड कप 2011 व 2013 में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व किया। इंडिया ए की सात साल तक कप्तान रहीं।

मीनाक्षी नेगी: उत्तराखंड सीनियर महिला व अंडर 23 टीम की फिजियो

अपूर्वा डी. नाडकर्णी: उत्तराखंड सीनियर महिला टीम की ट्रेनर

सीएयू सचिव महिम वर्मा Exclusive, वसीम जाफ़र बने हैड कोच

Previous article

You may also like